Connect with us

बक Lol

गिरदावरी में लापरवाही बरत रही खट्टर सरकार : तंवर

mm

Published

on

जल्द गिरदावरी करवाकर किसानों और भूमिहीन मजदूरों को राहत दे सरकार : डॉ. अशोक तंवर

किसान खेतों में फसल को छोड़ने को मजबूर : डॉ. अशोक तंवर

फरीदाबाद|
आम आदमी पार्टी ने पूरे प्रदेश में बारिश, ओलावृष्टि और तेज हवाओं से हुए गेहूं की फसलों के नुकसान की गिरदावरी शुरू करवाने की मांग की है। वरिष्ठ नेता डॉ. अशोक तंवर गांव मलेरना में आम आदमी पार्टी के नेताओं और प्रभावित किसानों के साथ खराब फसल का जायजा लेने पहुंचे। उन्होंने कहा कि मौसम के बदलाव से पूरे प्रदेश में लगभग 40 से 90 प्रतिशत फसल को नुकसान पहुंचा है। उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार ने अभी तक भी गिरदावरी करने का काम शुरू नहीं किया है।उन्होंने कहा कि इसको लेकर प्रदेश के किसानों में रोष है।

उन्होंने कहा कि बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि और तेज हवाओं से 60 प्रतिशत तक गेहूं की खड़ी फसल गिर गई। गेहूं का दाना काला पड़ना शुरू हो गया है। 15 अप्रैल तक गिरदावरी की जानी है, लेकिन अभी तक कोई पटवारी भी गांवों में नहीं पहुंच रहे। इससे किसानों को दोहरी मार पड़ी है। किसान खेतों में फसल छोड़ने को मजबूर हैं। वहीं सरकार भी फसलों की गिरदावरी करवाने में लापरवाही बरत रही है।

वरिष्ठ नेता डॉ. अशोक तंवर ने खड़ी फसल गिरने से गेहूं और सरसों का दाना कमजोर और काला भी पड़ने लगा है। वही जहां पर खेतों में पानी खड़ा है वहां पर गेहूं की फसल सड़ने भी लगी है। गेहूं की खराब फसल का मंडी में भी उचित दाम नहीं मिलेगा। वहीं मंडी में पहुंची फसल की नमी बताकर खरीद नहीं हो रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार से आग्रह है कि जल्द से जल्द प्रदेश के सभी जिलों में फसलों को पहुंचे नुकसान की जल्द गिरदावरी पूरी करवाकर राज्य सरकार किसानों को जल्द पंजाब की भगवंत मान सरकार की तर्ज पर मुआवजा राशि सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार से आग्रह है कि निश्चित समय अवधि में गिरदावरी पूरी करवाकर किसानों को जल्द मुआवजा राशि मिलनी चाहिए, जिससे किसानों को इस संकट की घड़ी में सहायता मिल सके। इसके साथ ही भूमिहीन मजदूरों के लिए खट्टर सरकार को मुआवजा देना चाहिए। ताकि इस महंगाई के दौर में उनका भी घर चल सकें। इस आपदा के कारण किसानों और मजदूरों के लिए संकट खड़ा कर दिया है।

बक Lol

आप गली गली हनुमान चालीसा क्यों पढ़ रहे हैं?

mm

Published

on

Continue Reading

बक Lol

7400 वें हनुमान चालीसा और राजनीति का आपस में क्या कोई रिश्ता है  

mm

Published

on

7400 वें हनुमान चालीसा और राजनीति का आपस में क्या कोई रिश्ता है | WhiteMirchi 

Continue Reading

बक Lol

आने वाली पीढ़ी के भविष्य के लिए बचाएं जल – प्रभाकर 

mm

Published

on

– हरियाणा तालाब एवं अपशिष्ट जल प्रबंधन प्राधिकरण के कार्यकारी उपाध्यक्ष प्रभाकर कुमार वर्मा ने किया तालाब के पुर्नउद्धार कार्य का क्रमवार निरीक्षण
फरीदाबाद। हरियाणा सरकार पूरी गंभीरता के साथ कार्य करते हुए जल संरक्षण की दिशा में विभिन्न योजनाओं के माध्यम से निरंतर प्रयास कर रही हैं। यह प्रयास तभी सार्थक होंगे जब ज्यादा से ज्यादा आमजन इसमें अपना योगदान देंगे। हरियाणा तालाब एवं अपशिष्ट जल प्रबंधन प्राधिकरण के कार्यकारी उपाध्यक्ष प्रभाकर कुमार वर्मा  ने आज मंगलवार को धौज, तिगांव, छांयसा, और हीरापुर के गावों के तालाब के पुर्नउद्धार कार्य का क्रमवार निरिक्षण किया।
उन्होंने कहा कि जिला फरीदाबाद में 75 तालाबों का अमृत सरोवर योजना के तहत पुर्नउद्धार कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश के सभी गांवों के ऐसे तालाब चयनित किए हैं जो खत्म होते जा रहे हैं। इसके तहत शुरुआती चरण में प्रदेश के प्रत्येक जिला में 75 तालाबों का पुर्नउद्धार किया जाएगा। इसी के तहत धौज, तिगांव, छांयसा, और हीरापुर के गावों के तालाब को भी चयनित किया गया है। इन तालाबों के चारों तरफ सुंदर पगडंडी बनाई जाएगी और इसके चारों तरफ घूमने के लिए ट्रैक होगा, लाइट लगाएंगे, पौधारोपण भी किया जाएगा। यह तालाब गांव के विकास में फिर से अपना योगदान देगा। हम सबको सामूहिक रूप से सभी को मिलकर तालाबों के उद्धार का जिम्मा लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि जल है तो जीवन है और ग्रामीणों से अपील है कि वह गांव के तालाबों में गंदगी न फैलाएं। जल संरक्षण आने वाले समय की आवश्यकता है तथा हर स्तर पर जल का समुचित उपयोग करने पर अभी से बल देना होगा तभी हम भावी पीढ़ी के लिए जल बचा सकेंगे। हरियाणा सरकार स्थायी जल संरक्षण के क्षेत्र में अपने लोगों की जरूरतों को पूरा करने में सक्रिय भूमिका निभा रही है। उन्होंने प्रदेशवासियों से आह्वान किया कि हम सभी को जल संरक्षण के साथ-साथ जल प्रबंधन पर भी विचार करना होगा।
उन्होंने गावों के सरपंचो से कहाकि वह अपने गावों में एक नई प्रथा चलाए गांव के किसी भी व्यक्ति के घर शादी हो या किसी से बच्चे का जन्मदिन तो उनके नाम से एक पेड़ लगवाए और उसकी देखरेख की जिम्मेदारी उन्हें दे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए की तालाबों पर अवैध अतिक्रमण ना होने दे और पुर्नउद्धार कार्य को समयानुसार पूरा करें।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी श्रुति, एसडीओ सुरेंदर सिंह, सरपंच शहीद, सरपंच वेद प्रकाश, तारीफ़ खान, शाकिर एहमद सहित अन्य कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Continue Reading
खास खबर4 months ago

Exclusive : एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर ठगों की लूट का मायाजाल

रूह-ब-रूह7 months ago

Seema Haider मुद्दे पर क्या बोले Advocate Rajesh Khatana

सिटी न्यूज़7 months ago

रोटरी क्लब एवं विद्यासागर की जितनी सराहना की जाए वह कम है : राजेश नागर

सिटी न्यूज़9 months ago

नीति और नीयत के खरे बनने की शपथ लें वकील  – राजश्री

सिटी न्यूज़9 months ago

किसने कहा जाति छोडो, भारत जोड़ो | WhiteMirchi

बक Lol9 months ago

आप गली गली हनुमान चालीसा क्यों पढ़ रहे हैं?

बक Lol10 months ago

7400 वें हनुमान चालीसा और राजनीति का आपस में क्या कोई रिश्ता है  

बक Lol11 months ago

आने वाली पीढ़ी के भविष्य के लिए बचाएं जल – प्रभाकर 

सिटी न्यूज़11 months ago

एनडीए, एनए व सीडीएस की परीक्षा 16 को, डीसी ने की रिहर्सल  

बक Lol11 months ago

रक्तदान से बढ़कर कोई दान नहीं : मूलचंद शर्मा

रूह-ब-रूह7 months ago

Seema Haider मुद्दे पर क्या बोले Advocate Rajesh Khatana

सिटी न्यूज़9 months ago

किसने कहा जाति छोडो, भारत जोड़ो | WhiteMirchi

बक Lol9 months ago

आप गली गली हनुमान चालीसा क्यों पढ़ रहे हैं?

बक Lol10 months ago

7400 वें हनुमान चालीसा और राजनीति का आपस में क्या कोई रिश्ता है  

सिटी न्यूज़1 year ago

कुंदन स्कूल में IAS जीतेन्द्र यादव रह गए दंग | WhiteMirchi 

सिटी न्यूज़1 year ago

Joshimath के लिए 25 लाख की राहत सामग्री को CM Manohar Lal ने दिखाई झंडी

वाह ज़िन्दगी1 year ago

क्या DIVINE HEALING से सही हो सकती है DIABETES | WhiteMirchi 

सिटी न्यूज़1 year ago

प्राइवेट स्कूल्स में फ्री पढ़ने के लिए टेस्ट 12 फरवरी को 

बक Lol1 year ago

Kissagoi : एक वेश्या का बेटा लड़की बन गया? by Shakun Raghuvanshi

बक Lol1 year ago

वो कौन है और क्यों 35 साल की उम्र में 3 बच्चों संग शादी से बाहर निकल गयी? किस्सागोई by शकुन रघुवंशी

लोकप्रिय