Connect with us

सिटी न्यूज़

सोमवार को मनाया जाएगा गोपाष्टमी पर्व

Published

on

फरीदाबाद। श्रीगोपाष्टमी पर्व सोमवार को मनाया जाएगा। सूरजकुंड मार्ग स्थित श्रीगोपाल गौशाला में सोमवार को आयोजित होने वाले गोपाष्टमी के कार्यक्रम में विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार बतौर मुख्यातिथि शिरकत करेंगे।
विहिप के प्रदेशाध्यक्ष रमेश गुप्ता ने बताया कि श्रीगोपाल गौशाला का यह 22वां गोपाष्टमी पर्व है। गौशाला में करीब पंद्रह सौ गौधन हैं। इनमें अधिकांशत: गौसेवकों द्वारा कसाईयों से छुड़ाई गई गाय हैं। गौशाला के गौधन में बूढ़ी, अंधी गायों के अलावा मनमोहक श्यामा गाय भी हैं। गौशाला का संचालन भले ही विश्वहिन्दू परिषद की इकाई करती हो, लेकिन शहर के लोगों के सहयोग से गौशाला चलती है। जो लोग घरों में गाय नहीं पाल सकते हैं, ऐसे लोग गौशाला आकर अपनी गाय पालते हैं। बैठक में तिलकराज बैंसला, दाऊदयाल गर्ग, दीपक गुप्ता, अनिल शास्त्री, सुभाष डाबरा, प्रेमचंद गोयल, कालीदास गर्ग, ओमप्रकाश मूंदडा, गोपाल शर्मा, पुष्पकांत शर्मा, ओमप्रकाश मिश्रा, ओमप्रकाश छाबड़ा, देश राज अग्रवाल, ज्ञानचंद भड़ाना, कमल गुप्ता, संजीव मित्तल आदि मौजूद रहे।

सिटी न्यूज़

विधायक राजेश नागर की धन्यवाद सभा में पहुंचे कई बड़े भाजपा नेता

Published

on

बोले, राजेश काम करवाने वाले व्यक्ति हैं और हम इनका पूरा साथ देंगे

फरीदाबाद। तिगांव से भाजपा विधायक राजेश नागर के लिए धन्यवाद सभा का तिगांव कौराली मोड पर स्थित शिव गार्डन में आयोजन किया गया। जिसमें उप्र सरकार के दर्जा प्राप्त मंत्री नवाब सिंह नागर, दादरी से विधायक तेजपाल नागर, हरियाणा सरकार में चेयरमैन नयनपाल रावत, पूर्व मंत्री हरियाणा विपुल गोयल आदि पहुंचे।

इस अवसर पर सभी ने तिगांव क्षेत्र की जनता का राजेश नागर को विजयी बनाने पर धन्यवाद किया। उन्होंने जनता से कहा कि राजेश काम करवाने वाले आदमी हैं। वह जब सरकार में नहीं थे, तब भी लोगों के काम करवाते थे। अब तो और ज्यादा काम करवाएंगे। यदि फिर भी कोई दिक्कत आती है तो हम लोग राजेश के साथ हैं।

इस अवसर पर उप्र सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री नवाब सिंह नागर ने कहा कि राजेश नागर ने जनता की सेवा में कभी कमी नहीं आने दी। नागर को जिताकर तिगांव की जनता ने अपना भाग्य स्वयं की स्वर्णिम बनाया है। इस अवसर पर दादरी से भाजपा विधायक तेजपाल नागर ने कहा कि राजेश को जिस प्रकार का सम्मान जनता ने दिया है। उससे वह बेहद प्रसन्न हैं। यहां की जनता ने विपक्ष का विधायक न चुनकर समझदारी का परिचय दिया है। इसके बहुत अच्छे नतीजे निकलकर आएंगे। इस अवसर पर हरियाणा सरकार में वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन के चेयरमैन नयनपाल रावत ने कहा कि हम दोनों भाइयों की पिछले चुनाव में थोड़ी थोड़ी चूक रह गई थी जो इस बार जनता ने पूरी कर दी है। उन्होंने लोगों से कहा कि उनके लिए तिगांव की जनता ने भी यज्ञ किया था। वह अपने भाई राजेश नागर के साथ पूरी तरह से साथ थे, हैं और रहेंगे।

इस अवसर पर हरियाणा सरकार में मंत्री रहे विपुल गोयल ने कहा कि वह और राजेश नागर बचपन के दोस्त हैं। दोनों साथ साथ पढ़े हैं और एक दूसर को बेहतर तरीके से जानते हैं। मैं इस बात की गारंटी लेता हूं कि राजेश किसी को भी निराश नहीं कर सकता।

इस अवसर पर विधायक राजेश नागर ने तिगांव क्षेत्र की जनता का धन्यवाद करते हुए कहा कि मेरे क्षेत्र के लेागों ने मुझे प्रदेश की सबसे बड़ी पंचायत में पहुंचाया है। अब मैं आपकी मूलभूत सुविधाओं को जल्द से जल्द उपलब्ध करवाने का प्रयास कर रहा हूं। इसके अलावा भी मैं बड़ी योजनाएं लाने का प्रयास करता रहूंगा। उन्होंने कहा कि तिगांव की जनता के घर का बेटा होने के नाते मैं अब भी पहले की तरह उपलब्ध रहूंगा और काम करवाता रहूंगा।

यहां पहुंचने पर स्थानीय जनता ने सभी नेताओं का आभार जताया और पगड़ी व शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया। इस अवसर पर गिर्राज शर्मा, जगत सिंह नागर, टीकाराम पटेल, दयानन्द नागर, हेमंत शर्मा, ईश्वर नम्बरदार, सुरेंद्र सरपंच बौहरा जी, पप्पू सरपंच तिगांव, रिंकू जौड़ला सरपंच तिगांव, राकेश सरपंच मंझावली, दयाराम शर्मा सरपंच फरीदपुर, उमेध सरपंच भुआपुर, शिव कुमार सरपंच सदपुरा, अशोक सरपंच रायपुर, सतबीर सरपंच बहादुरपुर, भूदत्त

शर्मा सरपंच भैंसरावली, अशोक सरपंच बडौली, अशोक सरपंच मंधावली, संयुक्ता चौहान, डा छत्तरपाल पाराशर, अजब सिंह चंदीला, ओमकार प्रधान, अजीराम अधाना, फिरे अधाना, बाबू हाडा, भूपेंद्र भाटी, एमपी नागर, मदन चंदीला, खेमी नागर, बाबू हरीचंद, ईश्वर अधाना, वेद पाल नम्बरदार आदि मौजूद रहे।

Continue Reading

सिटी न्यूज़

यह है हरियाणा सरकार की छुट्टियों की सूची

Published

on

This is the list of Haryana government holidays

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने वर्ष 2020 के दौरान अपने कार्यालयों के सार्वजनिक अवकाशों की सूची अधिसूचित की है। सरकार ने लिखत परक्राम्य अधिनियम 1881 की धारा-25 के अन्तर्गत (हरियाणा में न्यायिक अदालतों को छोडकऱ) राज्य में सार्वजनिक अवकाश के रूप में मनाए जाने वाले अवकाश भी अधिसूचित किए हैं। एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इस सम्बन्ध में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा एक अधिसूचना जारी की गई है। उन्होंने बताया कि अधिसूचना अनुसार सभी शनिवारों व रविवारों को सरकारी कार्यालयों में सार्वजनिक अवकाश रहेगा। इसके अतिरिक्त, विभिन्न प्रतिष्ठित विभूतियों के जन्मदिवसों, पुण्य-तिथियों व त्यौहारों को सावर्जनिक अवकाश घोषित किया गया है। इनमें 2 जनवरी को गुरु गोबिंद सिंह जयंती, 30 जनवरी को बसंत पंचमी/ सर छोटू राम जयंती, 21 फरवरी को महाशिवरात्रि, 10 मार्च को होली, 23 मार्च को शहीदी दिवस/भगत सिंह राजगुरू और सुखदेव शहीदी दिवस, 2 अप्रैल को रामनवमी, 6 अप्रैल को महावीर जयंती, 14 अप्रैल को डॉ. बी आर अम्बेडकर जयंती, 25 मई को ईद-उल-फितर / महाराणा प्रताप जयंती, 5 जून को संत कबीर जयंती, 31 जुलाई को शहीद उधम सिंह शहीदी दिवस, 3 अगस्त को रक्षा बंधन, 12 अगस्त को जन्माष्टमी, 23 सितंबर को शहीदी दिवस/हरियाणा वार हीरोज शहीदी दिवस, 2 अक्तूबर को महात्मा गांधी जयंती, 30 नवंबर को गुरू नानक जयंती, 25 दिसंबर को क्रिसमस का अवकाश शामिल है। इसके अलावा, शनिवार व रविवार के दिन आने वाले त्यौहारों में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस, 9 फरवरी को गुरु रविदास जयंती, 25 अप्रैल को परशुराम जयंती, 1 अगस्त को ईद-उल-जुल्हा, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस, 17 अक्तूबर को महाराजा अग्रसेन जयंती, 25 अक्तूबर को दशहरा, 31 अक्तूबर को महर्षि बाल्मिकी जयंती, 1 नवंबर को हरियाणा दिवस, 14 नवंबर को दिवाली और 15 नवंबर को विश्वकर्मा दिवस का अवकाश शामिल है। इसके अतिरिक्त, वैकल्पिक अवकाश जिनमें से कर्मचारियों को कोई तीन अवकाश लेने की अनुमति होगी इनमें 18 फरवरी को महर्षि दयानंद सरस्वती जयंती, 10 अप्रैल को गुड फ्राईडे, 7 मई को बुध पूर्णिमा, 26 मई को गुरू अर्जुन देव शहीदी दिवस/शहीदी दिवस, 23 जुलाई को हरियाली तीज, 30 अगस्त को मुर्हरम, 30 अक्तूबर को मिलाद-उन-नबी या ईद-ई-मिलाद (प्रोफेट मोहम्मद जयंती), 4 नवंबर को करवाचौथ, 15 नवंबर को गौवर्धन पूजा, 20 नवंबर को छठ पूजा, 24 नवंबर को गुरू तेगबहादुर शहीदी दिवस/शहीदी दिवस, 26 दिसंबर को शहीद उधम सिंह जयंती शामिल है। सरकार ने लिखत परक्राम्य अधिनियम 1881 की धारा-25 के अन्तर्गत (हरियाणा में न्यायिक अदालतों को छोडकऱ) राज्य में सार्वजनिक अवकाश के रूप में मनाए जाने वाले अवकाश भी अधिसूचित किए हैं। सभी रविवार के साथ 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस, 9 फरवरी को गुरू रविदास जयंती, 21 फरवरी को महाशिवरात्रि, 10 मार्च को होली, 1 अप्रैल को बैंक खातों की वार्षिक क्लोजिंग की छुटी, 6 अप्रैल को महावीर जयंती, 14 अप्रैल को डॉ. बी आर अम्बेडकर जयंती, 7 मई को बुधपूर्णिमा, 25 मई को ईद-उल-फितर, 1 अगस्त को ईद-उल-जूहा (बकरीद), 12 अगस्त को जन्माष्टमी, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस, 2 अक्तूबर को महात्मा गांधी जयंती, 25 अक्तूबर को दशहरा, 31 अक्तूबर को महर्षि बाल्मिकी जयंती, 14 नवंबर को दिवाली, 30 नवंबर को गुरू नानक जयंती और 25 दिसंबर को क्रिसमस शामिल है।

Continue Reading

सिटी न्यूज़

निगमायुक्त ने पर्यावरण सुरक्षा में मांगा शिक्षण संस्थाओं का सहयोग

Published

on

Call for Bharat bandh to protest against increase in reservation

फरीदाबाद। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने शैक्षणिक संस्थानों और शिक्षा विभाग को आह्वान किया है कि वे फरीदाबाद नगर निगम के द्वारा पर्यावरण की रक्षा की खातिर किए जा रहे प्रयासों में अपना भरपूर सक्रिय सहयोग प्रदान करें। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी सहित 50 से अधिक शैक्षणिक संस्थाओं के प्रधानाचार्यों व मुख्याध्यापकों को पत्र लिखकर प्रदूषण की रक्षा, मौसम परिवर्तन, स्वच्छ फरीदाबाद, जल बचाव, वृक्षारोपण और ऊर्जा बचत जैसे विषय को स्कूलों के द्वारा नियमित तौर से आयोजित की जाने वाली गतिविधियों का हिस्सा बनाने की भी अपील की है।निग्मायुक्त ने अपने पत्र में पिछले दिनों वायु प्रदूषण की उत्पन्न हुई आपातकालीन स्थिति की चर्चा करते हुए कहा है कि प्रदूषित वातावरण से बच्चों को बचाने की खातिर न केवल स्कूलों को कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया था, बल्कि उनकी खेल-कूद जैसी सभी बाहरी गतिविधियों को भी अभिभावकों  के द्वारा प्रतिबंधित तक कर दिया गया था। इतना ही नहीं 14 नवंबर के बाल दिवस के आयोजनों का भी बच्चे लुफ्त नहीं उठा सके थे और ऐसा पिछले 3-4 सालों से चला आ रहा है। निग्मायुक्त ने अपने इस पत्र में इस बात को स्वीकार किया है कि बतौर नगर निगम प्रशासन उन्हें और अधिक सक्रिय होकर वायु प्रदूषण को कम करने या इसकी रोकथाम के लिए और अधिक कदम उठाने चाहिए लेकिन आम नागरिकों, शैक्षणिक संस्थाओं, समाजसेवी संगठनों की भागीदारी सहित व्यापक जनभागीदारी के बिना वायु प्रदूषण की उत्पन्न हुई अत्यधिक आपातकालीन स्थिति से प्रभावी तरीके से निपटा जाना मुमकिन नहीं है।सोनल गोयल ने कहा कि हमारे देश को स्वतंत्र हुए कुछ ही वर्ष हुए हैं और विद्यालयों व महाविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र व छात्राएं देश के भावी निर्माता हैं, अतः इन युवाओं को आज की आवश्यकताओं विशेषकर पर्यावरण को उत्पन्न खतरों के प्रति सचेत करना हम सबकी जिम्मेवारी बनती है और अध्यापक, बच्चों के मार्गदर्शक व गुरू होने के नाते इस दिशा में अत्यधिक सक्रिय भूमिका निभा सकते है। निग्मायुक्त ने अपने पत्र में कहा कि जहां शैक्षणिक संस्थाओं के द्वारा वायु प्रदूषण से बचाव, मौसम परिवर्तन, दीपावली के आस पास पटाखों से संबंधित जागरूकता आदि-आदि विषयों पर अनेकों प्रकार की गतिविधियों का आयोजन किया जाता है, वहीं नगर निगम प्रशासन के द्वारा भी सिंगल यूज प्लास्टिक, स्वच्छ भारत मिशन अभियान, सफाई की आदत डालने सहित अनेकों विषयों पर गतिविधियों का निरंतरता में आयोजन किया जाता है। उन्होंने इन सभी शैक्षणिक संस्थाओं में इस प्रकार की गतिविधियां नगर निगम प्रशासन के साथ मिलकर आयोजित करने की भी अपील की है।  फरीदाबाद, 5 दिसम्बर। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने शैक्षणिक संस्थानों और शिक्षा विभाग को आह्वान किया है कि वे फरीदाबाद नगर निगम के द्वारा पर्यावरण की रक्षा की खातिर किए जा रहे प्रयासों में अपना भरपूर सक्रिय सहयोग प्रदान करें। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी सहित 50 से अधिक शैक्षणिक संस्थाओं के प्रधानाचार्यों व मुख्याध्यापकों को पत्र लिखकर प्रदूषण की रक्षा, मौसम परिवर्तन, स्वच्छ फरीदाबाद, जल बचाव, वृक्षारोपण और ऊर्जा बचत जैसे विषय को स्कूलों के द्वारा नियमित तौर से आयोजित की जाने वाली गतिविधियों का हिस्सा बनाने की भी अपील की है।निग्मायुक्त ने अपने पत्र में पिछले दिनों वायु प्रदूषण की उत्पन्न हुई आपातकालीन स्थिति की चर्चा करते हुए कहा है कि प्रदूषित वातावरण से बच्चों को बचाने की खातिर न केवल स्कूलों को कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया था, बल्कि उनकी खेल-कूद जैसी सभी बाहरी गतिविधियों को भी अभिभावकों  के द्वारा प्रतिबंधित तक कर दिया गया था। इतना ही नहीं 14 नवंबर के बाल दिवस के आयोजनों का भी बच्चे लुफ्त नहीं उठा सके थे और ऐसा पिछले 3-4 सालों से चला आ रहा है। निग्मायुक्त ने अपने इस पत्र में इस बात को स्वीकार किया है कि बतौर नगर निगम प्रशासन उन्हें और अधिक सक्रिय होकर वायु प्रदूषण को कम करने या इसकी रोकथाम के लिए और अधिक कदम उठाने चाहिए लेकिन आम नागरिकों, शैक्षणिक संस्थाओं, समाजसेवी संगठनों की भागीदारी सहित व्यापक जनभागीदारी के बिना वायु प्रदूषण की उत्पन्न हुई अत्यधिक आपातकालीन स्थिति से प्रभावी तरीके से निपटा जाना मुमकिन नहीं है सोनल गोयल ने कहा कि हमारे देश को स्वतंत्र हुए कुछ ही वर्ष हुए हैं और विद्यालयों व महाविद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र व छात्राएं देश के भावी निर्माता हैं, अतः इन युवाओं को आज की आवश्यकताओं विशेषकर पर्यावरण को उत्पन्न खतरों के प्रति सचेत करना हम सबकी जिम्मेवारी बनती है और अध्यापक, बच्चों के मार्गदर्शक व गुरू होने के नाते इस दिशा में अत्यधिक सक्रिय भूमिका निभा सकते है। निग्मायुक्त ने अपने पत्र में कहा कि जहां शैक्षणिक संस्थाओं के द्वारा वायु प्रदूषण से बचाव, मौसम परिवर्तन, दीपावली के आस पास पटाखों से संबंधित जागरूकता आदि-आदि विषयों पर अनेकों प्रकार की गतिविधियों का आयोजन किया जाता है, वहीं नगर निगम प्रशासन के द्वारा भी सिंगल यूज प्लास्टिक, स्वच्छ भारत मिशन अभियान, सफाई की आदत डालने सहित अनेकों विषयों पर गतिविधियों का निरंतरता में आयोजन किया जाता है। उन्होंने इन सभी शैक्षणिक संस्थाओं में इस प्रकार की गतिविधियां नगर निगम प्रशासन के साथ मिलकर आयोजित करने की भी अपील की है।

Continue Reading
खास खबर2 days ago

बतौर अध्यात्मिक वक्ता सम्मानित हुए पत्रकार शकुन रघुवंशी

सिटी न्यूज़2 weeks ago

डीएवी शताब्दी कॉलेज के छात्रों ने किया राजस्थान का शैक्षिक भ्रमण

सिटी न्यूज़1 week ago

घिनौना कृत्य करने वालों को फांसी की सजा मिले-कृष्ण अत्री

सिटी न्यूज़3 weeks ago

द्रोणाचार्य स्कूल में बच्चों ने मनाई हैलोवीन पार्टी

WhiteMirchi TV2 weeks ago

इससे अच्छा तो मुझे फांसी ही दे देते

WhiteMirchi TV2 weeks ago

बुजुर्ग क्यों जरुरी ?

वाह ज़िन्दगी2 weeks ago

मिलन कार्यक्रम में पूर्व छात्रों ने की परस्पर सहयोग पर चर्चा

सिटी न्यूज़2 weeks ago

शहीद भगतसिंह के पौत्र को मुख्यमंत्री ने दिया शादी पर आशीर्वाद

सिटी न्यूज़2 weeks ago

लव लैटर फीचर फिल्म की शूटिंग का शुभारंभ

सिटी न्यूज़2 weeks ago

भाजपा का मंत्र ‘राम नाम जपना, आतंकियों का माल अपना’ :- कृष्ण अत्री

लोकप्रिय