Connect with us

वाह ज़िन्दगी

चैत्र मास में सूर्यदेव की पूजा विवस्वान के नाम से करनी चाहिए : धर्मबीर भड़ाना

Published

on

फरीदाबाद: चैत्र मास की छठ पूजा कोचैती छठ के नाम से भी जाना जाता है। भविष्य पुराण में बताया गया है कि कार्तिक मास की और चैत्र मास की छठ (चैत छठ) का विशेष महत्व है। चैत्र मास में नवरात्र के दौरान ही हर साल षष्ठी तिथि को चैत छठ पर्व मनाया जाता है। पुराण में बताया गया है कि चैत्र मास में सूर्यदेव की पूजा विवस्वान के नाम से करनी चाहिए। उक्त वक्तव्य धर्मबीर भड़ाना ने पूर्वी सेवा समिति द्वारा राजा चौक स्थित छठ घाट पर चैत्र मास की छठ पूजा के समापन समारोह के दौरान कहे। उन्होंने छठ पर्व का महत्व बताते हुए कहा कि इन दिनों पुराणों के अनुसार वैवस्वत मनवंतर चल रहा है। इस मन्वंतर में सूर्यदेव ने देवमाता अदिति के गर्भ से जन्म लिया था और विवस्वान एवं मार्तण्ड कहलाए। इन्हीं की संतान वैवस्वत मनु हुए जिनसे सृष्टि का विकास हुआ है। शनि महाराज, यमराज, यमुना, एवं कर्ण भी इन्हीं की संतान हैं। इससे पूर्व पूर्वी सेवा समिति ने उनका फूल-मालाओं से स्वागत किया गया। उन्होंने पूर्वी समाज की आस्था और उनके द्वारा किए जाने वाले आयोजनों को आस्था का प्रतीक बताया और कहा कि पूर्वी समाज हमेशा बढ़-चढक़र धार्मिक आयोजन करता रहा है। फरीदाबाद में पूर्वी समाज एक अलग स्थान रखता है। इस अवसर पर उनके साथ पूर्वी सेवा समिति के प्रधान सुनील कुमार, माधव झा, मिथलेश, गौतम जैसवाल, धर्मराज, अच्छे लाल, डॉ. देव, डॉ. ए के गोस्वामी, संजय कुमार, सुरेन्द्र, नरेश समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

वाह ज़िन्दगी

हिन्दू मुसलिम सभी को दिया ईद का मुकद्दस पैगाम

Published

on

हिन्दू मुसलिम सभी को दिया ईद का मुकद्दस पैगाम

कांग्रेस नेता लखन कुमार सिंगला ने फरीदाबाद विधानसभा के कई इलाकों में अपनों के बीच मनाई ईद

फरीदाबाद।

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य लखन कुमार सिंगला ने ईद के पर्व पर अनेक इलाकों में जाकर ईद का मुकद्दस पैगाम लोगों को दिया। उन्होंने कहा कि ऊपरवाले ने हमें प्रेम का इजहार करने के लिए भेजा है। जिसकी याद दिलाने के लिए त्यौहार किए जाते हैं।

श्री सिंगला ने फरीदाबाद विधानसभा के क्षेत्रों इन्द्रा नगर, ऐसी नगर, संत नगर, बाबा नगर, शिव कॉलोनी, सेक्टर 19, किसान मजदूर कॉलोनी, पदम नगर, ओल्ड फरीदाबाद, भारत कॉलोनी आदि जगहों पर लोगों के बीच ईद मनाई। लखन कुमार सिंगला ने कहा कि ईद हमें अमन व भाईचारे के साथ रहने का पैगाम देती है। इसीलिए पर्वों का व्यक्ति के जीवन में इतना महत्व होता है। हम सब भारतवासी हैं और हम सबको दुनिया को दिखा देना है कि अनेकता में एकता का सबसे बड़ा उदाहरण भारत ही है। जहां पर अनेक मजहबों, जातियों, बोलियों और पहनावों के बावजूद हम कैसे प्रेम से रहते हैं।

एचपीसीसी सदस्य लखन कुमार सिंगला ने कहा कि रमजान का महीना हमें हमारे जीवन में इज्जत, मान सम्मान और धर्म के साथ जीना सिखाता है। इस महीने रोजा रखने वाले अपने ईमान को मजबूती देते हैं। उन्होंने सभी रोजा रखने वालों को भी उनकी दुआओं के फलने की प्रार्थना की।

उनके साथ खुशबू खान, युनूस खान, बल्लू, उसमान ठेकेदार, हाजी शरीफ, हाजी इरफान, हाजी वकील, सुहैल अहमद, खुर्शीद आलम, जावेद पाशा, जावेद अली, यासमीन खान, संदीप वर्मा, रणबीर नागर, बंटी ठाकुर आदि मौजूद रहे।

फोटो- फरीदाबाद विधानसभा के क्षेत्रों में लोगों को ईद की बधाइयां देते एचपीसीसी सदस्य लखन कुमार सिंगला।

Continue Reading

वाह ज़िन्दगी

नामदान से व्यक्ति को जीवन में सम्बल प्राप्त होता है – स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य

Published

on

नामदान से व्यक्ति को जीवन में सम्बल प्राप्त होता है – स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य
-श्री सिद्धदाता आश्रम में 261 लोगों को मिली दीक्षा

फरीदाबाद|

श्री सिद्धदाता आश्रम एवं श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम में आज नामदान दीक्षा समारोह का आयोजन किया गया जिसमें 261 लोगों ने नामदानप्राप्त किया। इस अवसर पर दीक्षा देते हुए अनंत श्रीविभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्रीपुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि नाम जप से व्यक्ति को जीवन में सम्बल प्राप्त होता है| नामजप व्यक्ति के जीवन की कठिनाईयों कोसहजता से पार करने में सहायक होता है और नाम जपने वाले व्यक्ति मुक्तिधाम को जाते हैं|

श्री सिद्धदाता आश्रम में 261 लोगों को दीक्षा प्रदान की गयी| इस अवसर पर भक्तों को पांच विधियों से गुजरना पड़ता है जिसमें यज्ञ, ताप, नाम,यज्ञोपवीत,शरणागति शामिल होते हैं। श्री रामानुज संप्रदाय में ऐसा माना जाता है कि नाम दान प्राप्त करने के बाद भक्त की मुक्ति में कोई संशयनहीं रहता है और जीव आवागमन से छूट जाता है। इस अवसर पर स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने सभी विधियों को पूर्ण करने के बाददिए संक्षिप्त प्रवचन में नामदान के महत्व एवं इसको धारण करने वाले शिष्यों के लिए कर्तव्यों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि नामदान देने केबाद शिष्यों के बुरे कर्मफल आदि को भी गुरु अपने में समाहित करने लगते हैं। इसलिए शिष्यों को चाहिए कि वह गलत कर्म करने से बचें और गुरुके बताए उपायों को अपने जीवन में अपनाएं।  श्री महाराज ने कहा कि रामानुज संप्रदाय में दीक्षित व्यक्ति को मोक्ष होना तय है। यह हमारेआचार्यों का भगवान के साथ भाव संंबंध है। उन्होंने बताया कि परंपरा के आचार्य रामानुज स्वामी जी भगवान से यह तय करके ही आए थे कि जिसेभी वह भगवान की शरण लगाएंगे उसे मुक्ति देनी होगी। श्री जी यानि लक्ष्मी जी द्वारा चलाए इस संप्रदाय को मानने वाले आज दुनिया में करोड़ोंलोग हैं। जिसका उत्तर भारत में दिल्ली व हरियाणा में यह श्री सिद्धदाता आश्रम पवित्र तीर्थ क्षेत्र बन चुका है।

Continue Reading

वाह ज़िन्दगी

विश्वविख्यात ट्रेनर से सीखी सेल्फ हीलिंग की तकनीक

Published

on

विश्वविख्यात ट्रेनर से सीखी सेल्फ हीलिंग की तकनीक

दुनिया के पांच यूनिवर्सिटीज में पढ़ाई जा रही गिन्नीज वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने वाले Dr. B.K. Chandrasekhar की तकनीक

फरीदाबाद।

दुनिया भर में लोगों को स्वयं स्वस्थ जीने के गुर सिखाने वाले डा बीके चन्द्रशेखर ने आज ग्रीनफील्ड कॉलोनी में लोगों को प्रशिक्षण दिया। उन्होंने अपनी क्लास में लोगों को सेल्फ हीलिंग के तरीके बताए।

डा चन्द्रशेखर सेल्फ हीलिंग तकनीक से स्वयं का कैंसर ठीक कर विज्ञानियों को चौंका चुके हैं। उन्होंने इसे साइको न्यूरोबिक्स का नाम देकर पेटेंट भी हासिल किया है और उनके यह मास्टर कोर्स दुनिया भर की पांच युनिवर्सिटीज में पढ़ाए जा रहे हैं। आज डा चन्द्रशेखर ने लोगों को साइको न्यूरोबिक्स की सरल तकनीकें सिखाईं और लोगों को स्वयं को स्वस्थ रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि व्यक्ति बड़े सहज तरीके से ध्यान लगाकर वाटर को चार्ज कर सकता है और उस चार्ज वाटर से पूरा परिवार स्वस्थ रह सकता है। उन्होंने बताया कि परिवार का एक व्यक्ति भी ठान ले तो पूरा परिवार स्वस्थ और सुखी रह सकता है। इसके लिए दिन में केवल 15 मिनट का समय भी काफी रहेगा।

उन्होंने क्लास में आने वालों के ऑरा को भी जांचा। जिसके आधार पर व्यक्ति के मनोदैहिक शक्ति का स्तर पता चलता है। इसके अलावा माइंड पावर को बढ़ाने वाली तकनीक भी बताईं। वहीं लोगों के हेप्पीनेस इंडेक्स भी जांचा जिससे व्यक्ति के प्रसन्नता का स्तर पता लगाया जाता है। डा चन्द्रशेखर पूर्व में दो गिन्नीज वल्र्ड रिकॉर्ड भी बना चुके हैं और उनकी क्लासेज दुनिया भर में आयोजित होती हैं। डा चन्द्रशेखर के सहयोगी ने बताया कि उनके द्वारा सिखाए जाने वाले कोर्सेस का संचालन सिगफा सॉल्यूशंस नामक संस्था करती है। जिसकी स्थापना ईश्वरीय ज्ञान को प्रचारित व प्रसारित करने के लिए की गई है।

Continue Reading
सिटी न्यूज़2 weeks ago

स्वामीजी ने पौधारोपण कर बताए पर्यावरण रक्षा के उपाय

वाह ज़िन्दगी2 weeks ago

हिन्दू मुसलिम सभी को दिया ईद का मुकद्दस पैगाम

खास खबर2 weeks ago

हरियाणा में बसपा-लोसपा गठबंधन टूटा, समीक्षा बैठक में हुई घोषणा

खास खबर2 weeks ago

‘इसिस’ के आतंकवादियों को  ‘एम्.आय.एम्’ के ओवैसी की ओर से खुली सहायता !

वाह ज़िन्दगी2 weeks ago

नामदान से व्यक्ति को जीवन में सम्बल प्राप्त होता है – स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य

सिटी न्यूज़3 weeks ago

नॉन कंफर्मिंग औद्योगिक क्षेत्रों के हक के लिए संघर्ष शुरू

खास खबर3 weeks ago

जीवन को सही दिशा पर रखने के लिए गुरु आवश्यक – कलराज मिश्र

वाह ज़िन्दगी3 weeks ago

विश्वविख्यात ट्रेनर से सीखी सेल्फ हीलिंग की तकनीक

खास खबर4 weeks ago

भाजपा की आंधी में जीते कृष्णपाल गुर्जर

सिटी न्यूज़4 weeks ago

पुण्यतिथि पर सैकड़ों ने कराई स्वास्थ्य की जांच 

सिटी न्यूज़4 weeks ago

नगर निगम के कर्मचारियों पर घालमेल का आरोप, सीएम विंडो पर लगाई गुहार 

खास खबर3 weeks ago

जीवन को सही दिशा पर रखने के लिए गुरु आवश्यक – कलराज मिश्र

खास खबर4 weeks ago

भाजपा की आंधी में जीते कृष्णपाल गुर्जर

सिटी न्यूज़3 weeks ago

नॉन कंफर्मिंग औद्योगिक क्षेत्रों के हक के लिए संघर्ष शुरू

सिटी न्यूज़4 weeks ago

पुण्यतिथि पर सैकड़ों ने कराई स्वास्थ्य की जांच 

वाह ज़िन्दगी3 weeks ago

विश्वविख्यात ट्रेनर से सीखी सेल्फ हीलिंग की तकनीक

खास खबर2 weeks ago

हरियाणा में बसपा-लोसपा गठबंधन टूटा, समीक्षा बैठक में हुई घोषणा

वाह ज़िन्दगी2 weeks ago

हिन्दू मुसलिम सभी को दिया ईद का मुकद्दस पैगाम

सिटी न्यूज़2 weeks ago

स्वामीजी ने पौधारोपण कर बताए पर्यावरण रक्षा के उपाय

खास खबर2 weeks ago

‘इसिस’ के आतंकवादियों को  ‘एम्.आय.एम्’ के ओवैसी की ओर से खुली सहायता !

लोकप्रिय