Connect with us

वाह ज़िन्दगी

मिलन कार्यक्रम में पूर्व छात्रों ने की परस्पर सहयोग पर चर्चा

Published

on

In the meeting, the former students discussed openly about mutual cooperation.

फरीदाबाद। 24 नवम्बर – जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के प्रबंधन अध्ययन विभाग द्वारा औद्योगिक संबंध प्रकोष्ठ के सहयोग से विश्वविद्यालय परिसर में एक बिजनेस मीट का आयोजन किया। बिजनेस मीट का आयोजन प्रबंधन अध्ययन विभाग के पूर्व छात्रों के मिलन कार्यक्रम (एलुमनाई मीट) का हिस्सा था। कार्यक्रम में काफी संख्या में भूतपूर्व छात्रों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने की। इस अवसर पर डीन (संस्थान) डॉ. संदीप ग्रोवर, डीन (प्रबंधन) डॉ. अरविंद गुप्ता, प्रबंधन अध्ययन विभाग के अध्यक्ष डॉ. आशुतोष निगम और प्रतिष्ठित संस्थानों से जुड़े भूतपूर्व छात्र उपस्थित थे। कार्यक्रम में परस्पर सहयोग विकसित करने को लेकर विभिन्न विषयों पर विचार-विमर्श किया गया। सत्र में अपने उद्घाटन भाषण में, कुलपति प्रो दिनेश कुमार ने कहा कि पूर्व छात्र विश्वविद्यालय का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और संस्थान के विकास एवं विद्यार्थियों को परस्पर सहयोग प्रदान करने में उनकी हमेशा अहम भूमिका रहती है। उन्होंने कहा कि कोई भी विभाग पूर्व छात्रों के सक्रिय और गतिशील सहयोग के बिना विकास नहीं कर सकता। उन्होंने प्रबंधन विभाग को पूर्व छात्रों के साथ परस्पर संबंधों तथा तालमेल को बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि प्रबंधन अध्ययन विभाग विश्वविद्यालय की एक प्रमुख विभाग है और, इसके पूर्व छात्र विश्वविद्यालय की आवश्यकताओं को प्रभावी ढंग से पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इससे पहले, कार्यक्रम में प्रो. आशुतोष निगम ने सभी पूर्व छात्रों का स्वागत किया तथा विभाग के पूर्व विद्यार्थियों के साथ परस्पर संबंधों को और अधित प्रगाढ़ बनाने में कार्यक्रम की महत्व पर प्रकाश डाला। विभाग के डीन डाॅ. अरविंद गुप्ता ने अपने संबोधन में प्रोफेशनल नेटवर्किंग के महत्व पर जोर दिया और विश्वास जताया कि यह कार्यक्रम विभाग एवं पूर्व छात्रों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने के साथ-साथ विशेषज्ञता के क्षेत्र में योगदान देगा। प्रो. संदीप ग्रोवर ने विभाग और पूर्व छात्रों के बीच निरंतर संपर्क और परस्पर सहयोग की आवश्यकता पर बल दिया। प्रो. सुरेश बेदी ने उद्घाटन सत्र के मुख्य उद्देश्य पर विस्तार से चर्चा की, जिसमें विभाग और छात्रों के साथ पूर्व छात्रों का जुड़ाव, रोजगार के क्षेत्र में परस्पर सहयोग, तथा पूर्व छात्रों के साथ परस्पर चर्चा के लिए मंच एवं अवसर शामिल थे। चर्चा सत्र में पूर्व छात्रों ने सक्रिय रूप से भाग लिया और औद्योगिक क्षेत्र में अपने के अनुभव साझा किये तथा शिक्षण प्रक्रिया को मजबूत बनाने तथा प्रासंगिक सहयोग प्रदान करने के लिए विचार रखे। पूर्व छात्रों ने परियोजना परामर्श, विशेष व्याख्यान और छात्रों को रोजगार मार्गदर्शन प्रदान करने की इच्छा व्यक्त की। कई पूर्व छात्रों ने इंटर्नशिप, लाइव प्रोजेक्ट, प्लेसमेंट और औद्योगिक भ्रमण और उद्यमिता संबंधी गतिविधियों की व्यवस्था में विभाग को सहयोग करने की पेशकश की। कई पूर्व छात्रों ने अपने कैरियर की प्रगति के लिए विभिन्न क्षेत्रों में प्रबंधन विकास में शाॅट टर्म सर्टिफिकेट कोर्स शुरू करने का प्रस्ताव रखा। इस संदर्भ में, प्रो. बेदी ने बताया कि विभाग पहले से ही इंडस्ट्री प्रोफेशनल्स के लिए एमबीए एग्जीक्यूटिव पाठ्यक्रम और पीएचडी कार्यक्रम चला रहा है। कार्यक्रम में निर्णय लिया गया कि परस्पर चर्चा को न्यूजलेटर, सोशल मीडिया समूहों, सेंट्रल एलुमनाई पोर्टल और एलुमनाई चैप्टर के माध्यम से आगे बढ़ाय जायेगा। अपने समापन भाषण में, प्रो. संदीप ग्रोवर ने विश्वविद्यालय द्वारा शुरू किये जाने वाले शार्ट टर्म पाठ्यक्रमों के प्रस्ताव के लिए पूर्व छात्रों के बीच परस्पर विचार-विमर्श करने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। कुलपति ने एलुमनाई मीट को सार्थक बनाने के लिए रखे गये विचार-विमर्श सत्र की अभिनव पहल की सराहना की। इस अवसर पर कार्यक्रम के अंतर्गत, कई सांस्कृतिक गतिविधियां आयोजित की गई, जिसमें गायन, कविता, नृत्य और कॉमेडी की प्रस्तुतियां शामिल रही। इन गतिविधियों में एमबीए और बीबीए के छात्रों और पूर्व छात्रों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। इस अवसर पर बेस्ट एलुमनस और बेस्ट एलुमना का चयन भी किया गया, जिसमें पंकज बंसल और खुशबू ने खिताब जीते।

वाह ज़िन्दगी

लाल किले से विश्वभर में गूंजेगी गीता की अमरवाणी

Published

on

Gita's Amarvani will resonate around the world with Red Fort

नई दिल्ली । ऐतिहासिक लाल किले से गीता की अमर वाणी विश्वभर में गुंजायमान होकर स्वच्छ स्वस्थ भारत, समरस भारत और नशामुक्त भारत का संदेश देगी। जियो गीता परिवार द्वारा आयोजित गीता प्रेरणा महोत्सव 2019 में विश्वभर की जानी मानी हस्तियां इस गौरवमयी ऐतिहासिक समारोह में शिरकत करेंगी। आरएसएस के सरसंघचालाक डॉ. मोहन जी भागवत बतौर मुख्यातिथि समारोह के गवाह बनेंगे और अपना संदेश देंगे। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला समेत कई केंद्रीय मंत्रियों की गरिमामयी उपस्थिति रहेगी। सभी राज्यों के मुख्यमंत्री, राज्यपाल, लोकसभा एवं राज्यसभा सांसद को भी समारोह का निमंत्रण भेजा जाएगा। विभिन्न देशों के राजदूत और प्रबुद्धजन भी इस दिव्य समारोह के साक्षी बनेंगे। दिल्ली के लाल किला मैदान में 1 दिसंबर को गीतमनीषि महामंलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज के नेतृत्व में होने वाले इस समारोह की तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है।
महोत्सव का उद्देश्य जानकारी देते हुए गीतमनीषि महामंलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज ने बताया कि गीता की अनमोल वैश्विक प्रेरणा केवल गीता शास्त्र के पन्नों या पूजा-पाठ, मठ-मंदिर या आश्रम तक ही सीमित न रह  जाएं इसलिए ये महोत्सव आयोजित किया जा रहा है। सिर्फ मरणासन्न व्यक्ति को गीता सुनाने तक काम नहीं चलेगा, जबतक विश्वभर में हर क्षेत्र, प्रत्येक वर्ग, प्रत्येक व्यावसाय के लोग ऐसा जानने और मानने न लगें की गीता हमारे लिए व्यावहारिक, प्रासंगिक और अत्यंत मांगलिक प्रेरणा है। विश्व बंधुत्व-वसुधैव कुटुंबकम की भारतीय गरिमा समूचे विश्व में पहचान उद्देश्य है।
कार्यक्रम की भव्यता
18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 18 हजार युवक-युवतियां, देशभर से 1800 अर्चक, धर्म स्थानों के सेवाधिकारी, पुजारी, कर्मकांडी अथवा प्रबुद्ध शिक्षित आचार्य विप्रजनों की उपस्थिति रहेगी। 18 प्रांतों का प्रतिनिधित्व करते हुए एलोपैथी, होम्योपैथी, आयुर्वेद तथा अन्य चिकित्सा पद्धतियों के 1800 डिग्रीयुक्त चिकित्सक, न्याय क्षेत्र से जुड़े 1800 प्रबुद्धजन, 1800 शिक्षाविद, धार्मिक-सामाजिक संस्थाओं के 1800 प्रतिनिधि, ग्रामीण क्षेत्रों से 1800 जन प्रतिनिधि, सेवानिवृत्त, सेवारत सैन्य, सुरक्षा, प्रशासकीय व्यवस्थाओं से जुड़े 1800 प्रतिनिधि व जियो गीता से जुड़े करीब 9000 से अधिक परिवार, कई देशों के राजदूत, उच्चायुक्त, संस्था प्रतिनिधि एवं गीता प्रेमी उपस्थित रहेंगे। कुलपति, उपकुलपति, रजिस्ट्रार, शैक्षणिक संस्थानों के स्वामी, प्रोफेसर, लेक्चरर, प्रिंसिपल, मुख्याध्यापक, अध्यापक और आचार्य विशेष रूप से मौजूद रहेंगे।
18 की संख्या का विशेष महत्व
गीता के 18 अध्याय हैं। महाभारत के युद्ध  में 18 अक्षोहिणी सेना थी। युद्ध में सत्य विजय का शंखनाद भी 18 दिन पश्चात हुआ था। इसी दृष्टि से 18 का विशेष महत्व है।
मिलेगा सम्मान
खेल जगत, उद्योग जगत, दिव्यांग क्षेत्र के प्रमुख प्रेरक व्यक्तित्व, गीता पर विशेष चिंतन या गीता से प्रेरणा पाकर सफलता अर्जित करने वाले प्रबुद्धजनों को गीता सम्मान मिलेगा। वहीं, हर सहभागी को एक प्रशस्तिपत्र एवं संकल्पपत्र भी दिया जाएगा।
अलग ब्लॉक रहेंगे
अलग-अलग फील्ड से जुड़े लोगों को बैठाने के लिए अलग ब्लॉक बनाए जाएंगे।सबके लिए एक जैसी पोशाक होगी। पोशाक में विशेष संकेत लगेंगे जिनसे पहचान होगी और व्यवस्था में तैनात सेवक उन्हें उनके ब्लॉक तक पहुंचाएंगे।
सर्वधर्म की दिखेगी झलक
समारोह में सभी धर्मों के प्रबुद्धजनों को आमंत्रित किया गया है। यह गीता प्रेरणा महोत्सव सर्वधर्म एकता का संदेशवाहक भी बनेगा। प्रमुख सन्तों, विभिन्न क्षेत्रों के प्रबुद्धजनों, चिंतकों और विस्तारकों का उदबोधन भी होगा।

Continue Reading

वाह ज़िन्दगी

गौ सेवा का अनुपम फल प्राप्त होता है – स्वामी जी

Published

on

फरीदाबाद। श्री सिद्धदाता आश्रम द्वारा संचालित नारायण गौशाला में गोपाष्टमी पर्व धूमधाम के साथ मनाया गया। इस अवसर पर जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने बताया कि गौ सेवा का फल अनुपम होता है। जो गौ सेवा करते हैं, उनको समस्त देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

श्री नारायण गौशाला में गोपाष्टमी के अवसर पर गौ पूजन करते स्वामी पुुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज।

स्वामी जी ने कहा कि गौ के घी में आक्सीजन उत्पन्न करने की अद्भुत शक्ति होती है। इसके एक चम्मच घी को जलाने पर एक टन आक्सीजन पैदा होती है। इसीलिए भारतीय संस्कृति में यज्ञ और गौ द्रव्यों का विशेष महत्व बताया गया है। हमारे घरों में गौ घृत से दीये जलाने की परंपरा लंबे समय से चली आ रही है। स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी ने कहा कि गौ सेवा के लिए लोगों को आगे आना चाहिए।

इससे पहले स्वामीजी ने विधिवत गौ पूजन कर गौओं को ग्रास भी दिया और भक्तों को भी प्रसाद एवं आशीर्वाद प्रदान किया। इस अवसर पर अनेक लोगों ने गौ सेवा के लिए बढ़ चढक़र सहयोग करने का वचन दिया। भक्तों के एक समूह ने 11 लाख रुपये का चैक, 1100 किलो गुड़, 25 क्विंटल बाजरा आदि गौओं के लिए दान किए।

Continue Reading

वाह ज़िन्दगी

एलएलबी की परीक्षाओं में सामूहिक नकल का खेल, परीक्षा रद्द करने की सिफारिश

Published

on

आगरा विश्वविद्यालय से संबद्ध मथुरा के दो प्रमुख डिग्री कॉलेजों में मंगलवार को एलएलबी की परीक्षाओं के दौरान सामूहिक नकल के बाद जिलाधिकारी ने परीक्षा निरस्त करने की संस्तुति की है. उपजिलाधिकारी की रिपोर्ट पर जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने विश्वविद्यालय के कुलपति को पत्र लिखकर बीएसए कॉलेज और केआर डिग्री कॉलेज में सामूहिक नकल का हवाला देते हुए परीक्षाएं निरस्त करने की संस्तुति की है.

एलएलबी (तृतीय वर्ष) और एलएलबी (प्रथम वर्ष) की परीक्षा चल रही थी. उल्लेखनीय है कि मंगलवार को उपजिलाधिकारी राजीव उपाध्याय ने कॉलेजों में निरीक्षण के दौरान वहां सामूहिक नकल होता पाया. उन्होंने दोनों कॉलेजों से नकल के लिए प्रयुक्त पाठ्य सामग्री को जब्त भी किया.

मिश्र ने बताया कि दोनों परीक्षा केंद्रों से मिली नकल की सामग्री भी रिपोर्ट के साथ विश्वविद्यालय भेज दी गई है. वहीं बीएसए डिग्री कालेज की प्राचार्य डॉक्टर सुमन अग्रवाल का कहना है कि कॉलेज में एलएलबी की परीक्षा के दौरान कोई नकल नहीं हो रही थी. यह आरोप निराधार हैं

Continue Reading
सिटी न्यूज़2 days ago

इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों को सीखनी चाहिए नई प्रौद्योगिकीः कुलसचिव डाॅ. गर्ग

सिटी न्यूज़2 days ago

आजादी रुपी धरोहर की रक्षा का लें संकल्प : आर.के. चिलाना

सिटी न्यूज़2 days ago

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस

सिटी न्यूज़3 days ago

टेलेंट सर्च एग्जाम से होगी होनहारों की पहचान

सिटी न्यूज़3 days ago

तम्बाकू को कहे ना, दूसरों को भी तम्बाकू छोड़ने को करें प्रेरितः कुलपति प्रो. दिनेश कुमार

सिटी न्यूज़3 days ago

फुल ड्रेस फाइनल रिहर्सल का उपायुक्त ने किया निरिक्षण

सिटी न्यूज़3 days ago

अब लिपिकवर्गीय कर्मचारियों के भी तबादले होंगे ऑनलाइन

सिटी न्यूज़4 days ago

पर्यावरण को बचाने के लिए सबको काम करना होगा- मेजर शिवा किरण

DC yashpal
सिटी न्यूज़4 days ago

अनुशासन की सीख नेताजी सुभाष चंद्र बोस से लें छात्र: उपायुक्त यशपाल

sushma swaraj
सिटी न्यूज़4 days ago

इस बस स्टेण्ड का नाम भूतपूर्व मंत्री सुषमा स्वराज के नाम पर होगा

सिटी न्यूज़1 week ago

फरीदाबाद के तीन पत्रकारों पर दर्ज मुकदमे को अदालत ने किया खारिज, पत्रकारों ने किया फैसले का स्वागत

सिटी न्यूज़1 week ago

सिद्धदाता आश्रम ने समाज के जरूरतमंद व्यक्तियों को दिए कंबल

सिटी न्यूज़1 week ago

आरएसएस के विरुद्ध मिथ्या प्रचार के विरुद्ध उपायुक्त को ज्ञापन

सिटी न्यूज़1 week ago

नामदान प्राप्त व्यक्ति को परमात्मा की प्राप्ति सुलभ – स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य

सिटी न्यूज़3 days ago

तम्बाकू को कहे ना, दूसरों को भी तम्बाकू छोड़ने को करें प्रेरितः कुलपति प्रो. दिनेश कुमार

सिटी न्यूज़2 days ago

विद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मनाया गया गणतंत्र दिवस

सिटी न्यूज़2 days ago

आजादी रुपी धरोहर की रक्षा का लें संकल्प : आर.के. चिलाना

sushma swaraj
सिटी न्यूज़4 days ago

इस बस स्टेण्ड का नाम भूतपूर्व मंत्री सुषमा स्वराज के नाम पर होगा

सिटी न्यूज़3 days ago

फुल ड्रेस फाइनल रिहर्सल का उपायुक्त ने किया निरिक्षण

सिटी न्यूज़1 week ago

जे.सी. बोस विश्वविद्यालय 3डी प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी पर एडवांस लैब विकसित करेगा

लोकप्रिय