Connect with us

बक Lol

छोटा राजन ने करवाई थी पत्रकार की हत्या

Published

on

whitemirchi.com

फरीदाबाद।  लंबे समय से चला आ रहा जे.डे हत्या कांड में आज मकोका की अदालत का बड़ा फैसला आ गया है जिसमें छोटा राजन सहित नौ आरोपियों को दोषी करार दिया गया है वहीं उनकी साथी पत्रकार जिग्रा वोरा इस हत्याकंड से बाईज्जत बरी हो गई हैं। मिली जानकारी के अनुसार मुंबई के मशहूर पत्रकार जे.डे. की हत्या करने व उनकी हत्या की साजिश रचने वाले आरोपियों को मकोका की अदालत ने दोषी करार दे दिया है। जे.डे. हत्याकांड में एक अन्य व्यक्ति को मकोका की अदालत ने बरी कर दिया है। साथ ही आज अदालत दोषियों को सजा सुना सकती है।

कोर्ट ने दी सजा की तारीख

३  अप्रैल को मकोका की अदालत के सत्र न्यायाधीश समीर अडकर ने जे.डे. हत्याकांड की साजिश रचने और इस साजिश को अंजाम देने वाले दोषियों को दो मई को सजा सुनाने का फैसला किया था। इस साजिश में मुंबई का डॉन राजेंद्र एस. निखलजे ऊर्फ छोटा राजन और मुंबई की पत्रकार जिग्ना वोरा मूल रूप से आरोपी थे। राजन इस समय दिल्ली स्थित तिहाड़ सेंट्रल जेल में बंद है। आपको बता दें कि ज्योतिर्मय डे की 11 जून, 2011 में पवई इलाके में दिनदहाड़े गोली मार कर हत्या कर दी थी।

बहन ने मांगी दोषियों के लिए फांसी

भाई की निर्मम हत्या होने से जे.डे. की बहन लीना शिहर उठी और अब उनका सिर्फ एक ही मकसद है अपने भाई के हत्यारों को फांसी तक पहुंचाना उनकी सरकार से मांग है की उनके भाई की हत्या करने वाले आरोपियों को फांसी की सजा हो।

उन्होंने बताया की भाई की मौत के बाद उनका सारा परिवार ही समाप्त हो गया है। उन्होंने  बताया की भाई की हत्या के बाद उनकी मां की भी मौत हो गई उनको अस्पताल ले जाने वाला कोई नहीं था। 

सीबीआई को सौंपा था केस

जे.डे. हत्याकांड में मूल रूप से दोषी अंडरवल्र्ड डॉन छोटा राजन के दो साल पहले भारत डिपोर्ट होने के बाद से जे.डे. हत्याकांड मामला सीबीआई को सौंप दिया गया था। केस की प्रांरभिक जांच लोकल पुलिस को सौंपी गई थी। जिसकी जांच मुंबई की सीपी के सक्कॉड से जुड़े वसंत ढोबले, राकेश शर्मा के अलावा मुंबई क्राइम ब्रांच की एक विशेष टीम ने की थी। परंतु इस मामले को डिटेक्ट क्राइम ब्रांच ने किया था। और सीबीआई को ट्रांसफर होने से पहले इस केस में दो चार्जशीट भी उसी की तरफ से ही कोर्ट में दायर की गई थी। 

पहले गवाह फिर आरोपी

क्राइम ब्रांच की इस विशेष टीम के एक सदस्य तब के यूनिट-वन के सीनियर इंस्पेक्टर रमेश महाले थेे। महाले के अनुसार, हमने इस केस में सतीश कालिया, अनिल वाघमारे, अभिजीत शिंदे, नीलेश शेडगे, अरुण डाके, मंगेश आगवने, सचिन गायकवाड, विनोद असरानी, दिलीप सिसौदिया, पॉल्सन जोसेफ को पहले गिरफ्तार किया। कुछ महीने बाद पत्रकार जिग्ना वोरा को भी पकड़ा। भारत डिपोर्ट होने के बाद जब सीबीआई ने छोटा राजन को जे. डे केस में अपनी कस्टडी में लिया, तो रवि रितेश्वर को भी आरोपी बना दिया। क्राइम ब्रांच के पास जब यह केस गया था, तब वह क्राइम ब्रांच का गवाह था। उन्होंने बताया की रवि रितेश्वर को कुछ महीने पहले विदेश में गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया की  जे. डे मर्डर केस में मुकदमा खत्म होने तक उसका भारत प्रत्र्यपण संभव नहीं हो पाया था। इस केस में नयन सिंह बिष्ट नामक भी एक आरोपी है। वह अभी पुलिस की गिरस्त से बाहर है जिसे पकडऩे के लिए पुलिस जुटी हुई है। 

किसके कहने पर की थी हत्या 

इस केस के हर व्यक्ति के बारे में बताते हुए महाले कहते हैं कि इस साजिश को अंजाम देने के लिए अंडरवल्र्ड डॉन छोटा राजन ने अपने साथियों के साथ मिल कर  हत्या की साजिश रची थी। जे.डे. को गोली मारने की साजिस रची थी। जिसमें वह सफल भी रहा था।  

उनके मुताबिक इस केस के प्रमुख आरोपी सतीश कालिया ने छोटा राजन के कहने पर इस हत्या की साजिश रची थी। उसने छोटा राजन से बात की। जे. डे पर उसी ने गोलियां चलाईं। उसी ने इस हत्या की साजिश में अन्य आरोपी जमा किए। वह ही अनिल वाघमोरे, नीलेश शेडगे, अभिजीत शिंदे को लेकर नैनीताल गया। इस हत्या को अंजाम देने के लिए जोसेफ पॉलसन नामक आरोपी ने ग्लोबल रोमिंग सिम कार्ड लिया। उन्होने बताया की इसी सिम कार्ड से मुख्य आरोपी ने छोटा राजन से बात की। इस घटना को अंजाम तक पहुंचाने से पहले करीब तीन दिन तक जे. डे पर नजर रखी जा रही थी लेकिन जे. डे दिखे नहीं। उसके बाद 11 जून, 2011 को जब वह दिखे, तो अपने साथी द्वारा ड्राइव की गई बाइक पर पीछे बैठकर सतीश कालिया ने उनका पीछा किया और फिर दोपहर बाद पवई में जे. डे पर गोलियां चला दीं। गोली लगने के कारण उनकी मौके पर ही मौत हो गई। 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई आरोपियों की पेशी

आपको बता दें की दोषी करार देने के  बाद छोटा राजन इस वक्त दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है, उसे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया गया।  इस मौके पर जज ने पहले इंग्लिश में अपना फैसला पढ़ा उसके बाद में हिंदी में छोटा राजन को फैसला बताया गया। छोटा राजन पर आरोप है कि उसने अपने खिलाफ लिखे गए लेख से गुस्साकर पत्रकार जेडे की हत्या करवाई थी।

क्या है जे डे हत्याकांड की पूरी कहानी

आपको बता दें की 2011 में मुंबई के पवई इलाके में अंग्रेजी अखबार मिड डे के लिये काम करने वाले वरिष्ठ पत्रकार ज्योति डे की अंडरवल्र्ड के शूटरों ने 5 गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या के वक्त जेडे अपनी मोटरसाईकिल पर सवार थे। जेडे की हत्या का मुख्य आरोपी डॉन छोटा राजन है जो इस वक्त दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है।

छोटा राजन कौन है

आपको बता दें की जे.डे. हत्याकांड में मुख्य दोषी छोटा राजन का वास्तविक नाम राजेन्द्र सदाशिव निखलजे है। इसका जन्म मुंबई के उपनगर चेंबूर में दलित परिवार में हुआ था। पढऩे के बजाए अपराध ने उसे ज्यादा आकर्षित किया और फिर वह उसी रास्ते पर चलता गया। उसके पिता नगर निगम में चपरासी थे। उसके सपनों की उड़ान काफी ऊंची थी। एक वक्त दाऊद का बेहद खास रहा छोटा राजन बाद में दाऊद के खून का प्यासा बन गया। छोटा राजन की दहशत भी डी-कंपनी से कम नहीं थी। 

क्यों रची थी हत्या की साजिश
सूत्रों के मुताबिक जे.डे. छोटा राजन के खिलाफ लिखा करते थे। जिस कारण छोटा राजन ने अपने नौ साथियों सहित हत्या इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

बक Lol

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने क्यों कहा, यह कांग्रेस की नहीं मोदी की सरकार है

Published

on

Continue Reading

बक Lol

पत्रकार को पालतू कहने पर मीडियाकर्मियों में तू-तू मैं-मैं

Published

on

फरीदाबाद। एनआईटी विधानसभा से कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा ने नगर निगम द्वारा उनकी मां के घर पर तोडफ़ोड़ की काईवाई के विरोध में प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की थी।
लेकिन यहां अकसर नीरज शर्मा के साथ रहने वाले एक पत्रकार को अन्य मीडियाकर्मियों द्वारा इस मौके पर उपस्थित न रहने पर सवाल दागा। जिस पर विधायक ने इस बारे में जवाब देने में असमर्थता जताई। जिस पर एक अन्य मीडियाकर्मी ने उस पत्रकार को पालतू तक कह डाला। वहीं एक अन्य पत्रकार ने उसे चोर और डाकू कहकर संबोधित कर दिया और उसके चार लाख रुपये दिलवाने के लिए भी विधायक से कहा।
इस पर उस पत्रकार के प्रतिनिधि ने विरोध किया और कहा कि वह आज शहर में नहीं हैं और उनके प्रतिनिधि के तौर पर वह कवरेज कर रहे हैं। इस पर आरोप लगा रहे पत्रकार भडक़ गए और आपस में तू-तू मैं-मैं शुरू हो गई।
इस पत्रकार ने तो यहां तक कह दिया कि उस पालतू के सामने मेरा नाम ले देना। इतना ही काफी है। वह मेरा सामना नहीं कर सकता, मैं 25 साल से पत्रकारिता कर रहा हूं। जिस पर विधायक के पत्रकार का पक्ष ले रहे मीडियाकर्मी ने कहा कि जो कहना है, उससे ही कहना। किसी के पीछे, उसके बारे में बुरी बात करना ठीक नहीं है। कुछ समझदार मीडियाकर्मियों और पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा ने किसी तरह कह सुनकर सभी को शांत करवाया।

Continue Reading

बक Lol

नगर निगम ने फरीदाबाद शहर को बना दिया कूड़े का ढेर – जसवंत पवार

mm

Published

on

वैसे तो फरीदाबाद शहर को अब स्मार्ट सीटी का दर्जा प्राप्त हो चूका है, परन्तु शहर के सड़कों पर गंदगी के ढेर  फरीदाबाद प्रशासन और नगर को आइना दिखा रहे हैं

शहर के अलग अलग मुख्य चौराहों और सड़कों पर पढ़े कूड़े के ढेर को लेकर समाज सेवी जसवंत पवार ने फरीदाबाद प्रशासन और नगर निगम कमिश्नर से पूछा है कि एक तरफ भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी कहते हैं कि स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत मुहिम को पूरे देश में चला रहे हैं वही नगर निगम इस पर पानी फेरता दिख रहे हैं फरीदाबाद में आज सड़कों पर देखे तो गंदगी के ढेर लगे हुए हैं पूरे शहर को इन्होंने गंदगी का ढेर बना दिया है। जिसके चलते फरीदाबाद शहर अभी तक एक बार भी स्वछता सर्वेक्षण में अपनी कोई अहम् भूमिका अदा नहीं कर पा रहा,  अगर ऐसे ही चलता रहा तो हमारा फरीदाबाद शहर स्वच्छता सर्वे में फिर से फिसड्डी आएगा। साल 2021 में स्वछता सर्वेक्षण 1 मार्च से 28 मार्च तक किया जाना है जिसको लेकर लगता नहीं की जिला प्रसाशन व फरीदाबाद के नेता और मंत्री फरीदाबाद शहर की स्वछता को लेकर बिल्कुल भी चिंतित दिखाई नहीं पढ़ते है।

जसवन्त पंवार ने फरीदाबाद वासियों से अनुरोध और निवेदन किया है अगर हमें अपना शहर स्वच्छ और सुंदर बनाना है तो हम सबको मिलकर प्रयास करने होंगे जहां पर भी गंदगी के ढेर हैं आप वीडियो बनाएं सेल्फी ले फोटो खींचे और नेताओं और प्रशासन तक उसे पहुंचाएं, हमें जागरूक होना होगा तभी जाकर यह फरीदाबाद शहर हमारा स्वच्छ बन पाएगा। आप हमें इस नंबर पर वीडियो और फोटो भेज सकते हैं

Continue Reading
बक Lol2 weeks ago

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने क्यों कहा, यह कांग्रेस की नहीं मोदी की सरकार है

खास खबर3 weeks ago

क्या पार्षद पर शराब पीने का आरोप लगाने वाले विधायक Neeraj Sharma भी शराब के नशे में थे?

WhiteMirchi TV3 weeks ago

दूसरे के घर में रहकर अपने घर की सफाई नामुमकिन है!

रूह-ब-रूह3 weeks ago

उम्मीदवार ऐसा चुनें, जिससे आपकी बहु बेटी सुरक्षित रहें

WhiteMirchi TV3 weeks ago

गुनाहों का देवता ही क्यों, गुनाहों का खुदा क्यों नहीं?

रूह-ब-रूह3 weeks ago

ताऊ देवीलाल की नीतियों से क्यों प्रभावित हैं डॉ सतीश फौगाट

WhiteMirchi TV3 weeks ago

डॉ आंबेडकर हैं आधुनिक मनु !

बक Lol3 weeks ago

पत्रकार को पालतू कहने पर मीडियाकर्मियों में तू-तू मैं-मैं

खास खबर3 weeks ago

अतिक्रमण नहीं किया, मां ने बारिश में डूबने से बचाया घर – विधायक

सिटी न्यूज़4 weeks ago

प्रशान्त नागर ने दहेज न लेकर समाज को दिखाई राह – राजेश नागर

खास खबर3 weeks ago

अतिक्रमण नहीं किया, मां ने बारिश में डूबने से बचाया घर – विधायक

बक Lol3 weeks ago

पत्रकार को पालतू कहने पर मीडियाकर्मियों में तू-तू मैं-मैं

सिटी न्यूज़4 weeks ago

प्रशान्त नागर ने दहेज न लेकर समाज को दिखाई राह – राजेश नागर

खास खबर3 weeks ago

क्या पार्षद पर शराब पीने का आरोप लगाने वाले विधायक Neeraj Sharma भी शराब के नशे में थे?

रूह-ब-रूह3 weeks ago

ताऊ देवीलाल की नीतियों से क्यों प्रभावित हैं डॉ सतीश फौगाट

बक Lol2 weeks ago

मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने क्यों कहा, यह कांग्रेस की नहीं मोदी की सरकार है

रूह-ब-रूह3 weeks ago

उम्मीदवार ऐसा चुनें, जिससे आपकी बहु बेटी सुरक्षित रहें

WhiteMirchi TV3 weeks ago

डॉ आंबेडकर हैं आधुनिक मनु !

WhiteMirchi TV3 weeks ago

दूसरे के घर में रहकर अपने घर की सफाई नामुमकिन है!

WhiteMirchi TV3 weeks ago

गुनाहों का देवता ही क्यों, गुनाहों का खुदा क्यों नहीं?

खास खबर3 weeks ago

क्या पार्षद पर शराब पीने का आरोप लगाने वाले विधायक Neeraj Sharma भी शराब के नशे में थे?

WhiteMirchi TV3 weeks ago

दूसरे के घर में रहकर अपने घर की सफाई नामुमकिन है!

WhiteMirchi TV3 weeks ago

गुनाहों का देवता ही क्यों, गुनाहों का खुदा क्यों नहीं?

WhiteMirchi TV3 weeks ago

डॉ आंबेडकर हैं आधुनिक मनु !

WhiteMirchi TV2 months ago

जाति छोड़ना मुश्किल और धर्म छोड़ना आसान है क्या ?

WhiteMirchi TV2 months ago

ऐसे मिलेगा जाति से छुटकारा !!!!

WhiteMirchi TV3 months ago

कैसे लिंगायाज विद्यापीठ छात्रों को बेचने लायक बना रही है?

WhiteMirchi TV1 year ago

अपनी छाती न पीटें, मजाक न उड़ाएं…. WhiteMirchi

WhiteMirchi TV1 year ago

लेजर वैली पार्क बना किन्नरों की उगाही का अड्डा WhiteMirchi

WhiteMirchi TV1 year ago

भांकरी फरीदाबाद में विद्यार्थी तेजस्वी तालीम शिविर में भाग लेंगे फौगाट स्कूल के बच्चे| WhiteMirchi

लोकप्रिय